जीवन चिठ्ठा

आयुष्मान खुराना की जीवनी – Ayushmann Khurrana Biography

0
ayushman-khurana

आयुष्मान खुराना का जीवन परिचय – Ayushmann Khurrana Biography

Ayushmann Khurrana Bio – आयुष्मान खुराना की (Ayushmann Khurrana Bigraphy) जीवनी में उनके परिवार (Ayushmann Khurrana Wife) और कविता (Ayushmann Khurrana Poetry) की जानकारी मिलेगी.

आयुष्मान खुराना बॉलीवुड के जाने माने अभिनेता हैं जो कि न सिर्फ कलाकार बल्कि लाजवाज गायक और लेखक (Ayushmann Khurrana Poetry) भी हैं। भारतीय टेलीविजन में उन्होंने एंकरिंग के जरिए एक मुकाम हासिल किया है। वह लगभग हर दर्शक वर्ग (Ayushmann Khurrana Career) में लोकप्रिय हैं चाहे वह टी.वी. का दर्शक हो या फिर फिल्मों का।

आयुष्मान खुराना का परिचय – Ayushmann Khurrana Bio

  • Name – आयुष्मान खुराना
  • Ayushmann Khurrana Nick Name – आयुष
  • Ayushmann Khurrana Birth date – 14 सितम्बर, 1984
  • Ayushmann Khurrana Age – 34 वर्ष
  • Ayushmann Khurrana Birth Place – चंडीगढ़, भारत
  • Ayushmann Khurrana Profession – अभिनेता, गायक, लेखक, टेलीविज़न होस्ट एवं आरजे.
  • Ayushmann Khurrana Famous As – सन 2012 में फिल्म विक्की डोनर में विक्की अरोरा के रूप में.
  • Ayushmann Khurrana Nationality – भारतीय
  • Ayushmann Khurrana Hometown – चंडीगढ़, भारत
  • Ayushmann Khurrana Education Qualification – अंग्रेजी साहित्य में मेजर्ड एवं मास, कम्युनिकेशन में मास्टर डिग्री
  • Ayushmann Khurrana Religion – हिन्दू
  • Ayushmann Khurrana Caste – खत्री
  • Ayushmann Khurrana Debut – फिल्म विक्की डोनर (सन 2012 में)
  • टीवी – एमटीवी रोडीज सीजन 2 (सन 2004 में प्रतिभागी के रूप में)
  • Ayushmann Khurrana Marital Status – विवाहित
  • Ayushmann Khurrana Salary – 2 – 3 करोड़ प्रति फिल्म
  • Ayushmann Khurrana Net Worth – 6 मिलियन डॉलर

आयुष्मान खुराना का परिवार – Ayushmann Khurrana Family

  • Ayushmann Khurrana Father – पी. खुराना
  • Ayushmann Khurrana Mother – पूनम खुराना
  • Ayushmann Khurrana Brother – अपारशक्ति खुराना
  • Ayushmann Khurrana Wife – ताहिरा

आयुष्मान का जन्म 14 सितंबर 1984 को चंडीगढ में हुआ है लेकिन उनका निवास स्थान मुंबई है। उनके पिता (Ayushmann Khurrana Father) का नाम पी. खुराना है जो कि पेशे से ज्योतिष और ज्योतिषी विषय पर एक प्रसिद्द लेखक भी हैं. उनकि माता (Ayushmann Khurrana Mother) एक ग्रहणी है, आयुष्मान के एक भाई भी हैं जिनका नाम अपारशक्ति खुराना है, अपारशक्ति (Ayushmann Khurrana Brother) दिल्ली में ओएई 104.8 एफएम में एक रेडियो जौकी है. साथ ही वे एक टीवी स्टार, एंकर एवं एक्टर भी है.

यह ही पढ़े –

आयुष्मान खुराना की पत्नी और बच्चे – Ayushmann Khurrana Wife & Children

आयुष्मान ने बचपन की दोस्त, ताहिरा (Ayushmann Khurrana Wife) से साल 2011 में शादी कर ली. तब से वे दोनों साथ में ही हैं. उनके 2 बच्चे भी है एक लड़का (Ayushmann Khurrana Son) विराजवीर, जिसका जन्म 2 जनवरी सन 2012 में हुआ, और दूसरी लड़की (Ayushmann Khurrana Daughter) वरुश्का, जिसका जन्म 21 अप्रैल 2014 को हुआ है.

आयुष्मान खुराना की शिक्षा – Ayushmann Khurrana Education

आयुष्मान ने अपनी पढ़ाई सेंट जॉन हाई स्कूल से की और उनका कॉलेज डीएवी कॉलेज, चंडीगढ़ से पूरा हुआ है। इसके बाद उन्होंने अंग्रेजी साहित्य की पढ़ाई (Ayushmann Khurrana Education) की और स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन स्टडीज, पंजाब यूनिवर्सिटी से जनसंचार में मास्टर्स की डिग्री प्राप्त की।

आयुष्मान खुराना रोडीज – Ayushmann Khurrana Rodies

खुराना ने 2004 में रियलिटी टेलीविजन शो एमटीवी रोडीज का दूसरा सीजन जीता और एंकरिंग करियर (Ayushmann Khurrana Career) की शुरुआत की। कई टीवी शो होस्ट करने के बाद उन्हने फिल्म विक्की डोनर की. अपनी डेब्यू फिल्म (Ayushmann Khurrana First Movie) में सफल होने के बाद इन्होने सक्रिय रूप से बॉलीवुड में एक बाद एक फ़िल्में करनी शुरू कर दी.

आयुष्मान खुराना फिल्मों में करियर  – Ayushmann Khurrana Career

  • आयुष्मान ने सन 2013 में एक फिल्म की, जोकि रोहन सिप्पी द्वारा निर्देशित ‘नौटंकी साला’ की थी .
  • साल 2014 में आयुष्मान ने यश राज फिल्म्स की फिल्म ‘बेवकूफियां’ में काम किया था. इस फिल्म में आयुष्मान ने प्लेबैक सिंगर के रूप में नीति मोहन के साथ मिलकर ‘खामखाँ’ गाना गाया था.
  • 2014 में ही इनकी एक और फिल्म आई थी ‘हवाईज़ादा’, जोकि वैज्ञानिक शिवकुमार बापूजी तलपडे की बायोपिक फिल्म थी. किन्तु यह फिल्म भी ज्यादा नहीं चली.
  • सन 2015 में आयुष्मान खुराना ने फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ में काम किया था. यह फिल्म शरत कटारिया के निर्देशन में बनाई गई थी. इस फिल्म को बहुत अच्छी समीक्षा प्राप्त हुई थी.
  • इसके बाद आयुष्मान ने 2 साल तक कोई फ़िल्में नहीं की. 2 साल बाद सन 2017 में फिल्म ‘मेरी प्यारी बिंदु’ से बड़े पर्दे पर दोबारा दिखाई दिए.
  • साल 2017 में ही आयुष्मान ने फिल्म ‘बरेली की बर्फी’ और फिल्म ‘शुभ मंगल सावधान’ में भी मुख्य किरदार निभाया था. ये दोनों ही फिल्में व्यावसायिक रूप से सफल रही थी.
  • सन 2018 में आयुष्मान की 2 फ़िल्में आई ‘अंधाधुंध’ एवं ‘बधाई हो’. ये दोनों ही फिल्मों ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा था. दोनों ही फ़िल्में हिट लिस्ट में शामिल है.

आयुष्मान खुराना की कविता – Ayushmann Khurrana Poetry

अभिनय कला और गायन से तो प्रभावित हैं ही लेकिन वह बहुत अच्छे कवि (Ayushmann Khurrana Poetry) भी हैं। आयुष्मान की कविताएं –

अर्धनिर्मित

यहाँ कोई मित्र नहीं है, कोई आश्वस्त चरित्र नहीं है
सब अर्धनिर्मित है
अर्धनिर्मित इमारतें हैं, अर्धनिर्मित बच्चों कि शरारतें हैं
अर्धनिर्मित ज़िन्दगी कि शर्ते हैं
अर्धनिर्मित जीवन पाने के लिए लोग रोज़ यहाँ मरते हैं
अर्धनिर्मित है यहाँ के प्रेमियों का प्यार
अर्धनिर्मित है यहाँ मनुष्यों के जीवन के आधार
आज का दिन अर्धनिर्मित है
न धूप है, न छाओं है
मंजिल कि डगर से विपरीत चलते पाँव है
अर्धनिर्मित सी सेहत है
न कभी देखा निरोगी काया को, न कभी दिल से कहा अलविदा माया को
हमारी अर्धनिर्मित सी कहानी है, अर्धनिर्मित हमारे युवाओं कि जवानी है
हम रोज़ एक अर्धनिर्मित शय्या पर लेटे हुए एक अर्धनिर्मित सा सपना देखते हैं
उस सपने में हम अपनी अर्धनिर्मित आकांक्षाओं को आसमानों में फेंकते हैं
आसमान को भी इन आकांक्षाओं को समेटकर अर्धनिर्मित होने का एहसास होता होगा
क्योंकि यह आकांक्षाएं हमारी नहीं आसमान की है
बिलकुल वैसे ही जैसे यह अर्धनिर्मित गाथा तुम्हारी है और आयुष्मान की है.

मुखौटे

चहरे ये मुखौटे हैं
मुखौटे ही तो चहरे हैं
अन्दर का राम जला दिया
कैसे उल्टे पड़े दशहरे हैं
अपनी ही आवाज़ सुन ना पाएं
पूर्ण रूप से बहरे हैं
मन की नदी उफान पा ना सकी
पर हम दिखते कितने गहरे हैं
ये मुखौटे कोई उतार ना ले
लगा दिए लाखों पहरे हैं
चहरे ये मुखौटे हैं
मुखौटे ही तो चेहरे हैं.

मनुष्य खगोल

तारे जो नज़र आते हैं नभ में
वैसी ही कहानी बनी सब में
ऐसा लगता है मानो दुनिया कि छत पे एक विशाल आइना जड़ा हो
बिलकुल मुझ जैसा एक मनुष्य सुदूर मेरे ऊपर खड़ा हो
वो मनुष्य रुपी तारा है
मेरे जीवन का सारांश सारा है
धरा पे जितना अँधेरा नभ में उतने तारे नज़र आते है
इससे पता चलता है कि एक स्थान के अंधकार से दूसरे के उजाले नज़र आते हैं
जैसे ही सुबह हो जाती है
तारो कि दुनिया नज़र नहीं आती है
सिर्फ एक प्रमुख तारा सूर्य छा जाता है
भूमंडल कि चकाचौंध को स्वयं खा जाता है
चंद्रमा या आफताब
एक प्राकृतिक उपग्रह या किसी पतिव्रता का ख्वाब
यह चाँद आकाश का ध्वज है
किसी गरीब मुसलमान कि इकलौती हज है
आज नभ में एक टूटा तारा था
जिसको वायुमंडल का सहारा था
मतलब कम से कम यह तारे औंधे मुँह तो नहीं गिरते धरा पर
नष्ट हो जाते हैं नभ और ज़मीन के बीच न जाने कहाँ पर
वैसे ही शायद मनुष्य है
उसकी मृत्यु एक सरल रहस्य है
हम भी ज़मीन से सीधा ऊपर नहीं जाते हैं
कहीं बीच में ही अटक जाते हैं
अधिकाँश लोग मरणोपरांत भटक जाते हैं
और चंद खुशनसीब खुद से और खुदा से लिपट जाते हैं.

हवा

ठण्डी हवा, तेज़ हवा
काली हवा, अंग्रेज़ हवा
तिब्बत का भूकम्प थी चीनी हवा
कश्मीर में फिरती है असमंजस की भीनी हवा
यहूदियों की इसरयाली सख्त हवा
मुसलमानों का बहाती रक्त हवा
मिस्र में प्राचीन शिल्पकारों की कृति नष्ट करती हवा
वहीँ थोड़े पूरब के मरूस्थल में खुद शिल्पकार बनने का कष्ट करती हवा
हिंदुकुश की पहाड़ियों में हिन्दू खुश ना रखती हवा
मज़हब की जिद्दी आंधी में शायद, कुछ भी ना कर सकती ये हवा
वहाँ जापान में हवा समूह में फिरती है, तो बन जाती बवंडर ये हवा
ऊपर नीचे आगे पीछे कामुक छलांगे लगा कर छोड़ जाती खण्डर ये हवा
उत्तर-भारत के योगी बाबा के श्वास की हवा
दक्षिण के भोगी बाबा के अन्धविश्वास की हवा
देश वासियों की अन्ना में क्षण-भर के विश्वास की हवा
बहती है अध्यात्मिक प्रदूषण की बकवास की हवा
वक़्त की रफ़्तार समझ आती है, हवा की नहीं
रूकती नहीं है ये हवा
थकती नहीं है ये हवा
दिखती नहीं है ये हवा
और हाँ, मनुष्य की तरह बिकती नहीं है ये हवा.

आयुष्मान खुराना की फिल्मे – Ayushmann Khurrana Movie List

  • ड्रीम गर्ल
  • बाला
  • अंधाधुन
  • विक्की डोनर
  • शुभ मंगल सावधान
  • बधाई हो
  • बेवक़फ़ियन
  • गुलाबो सीताबो
  • दम लगा के हईशा
  • बरेली की बर्फी
  • नौटंकी साला
  • मेरी प्यारी बिंदु
  • शुभ मंगल ज्यादा सावधान
  • आर्टिकल 15

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *