फिटनेस सूत्र

Benefits of Haldi Milk – हल्दी दूध पीने के फायदे

0
Benefits-of-Haldi-Milk

Benefits of Haldi Milk – हल्दी दूध पीने के फायदे

Benefits of Haldi in Milk – हल्दी दूध कई सारे गुणों से भरपूर है (Benefits of Golden Milk) हल्दी का दूध पीने से संक्रमण से बचा जा सकता है (Benefits of Haldi Doodh) रोजाना होने वाली दिक्कतों के इलाज के लिए हल्दी दूध काम आता है।

आयुर्वेद में हल्दी को सबसे बेहतरीन नेचुरल एंटीबायोटिक माना गया है। सदियों से मामूली दर्द, गले में सूजन, जुखाम – खासी के लिए हल्दी दूध के लाभ के बारे में बताया गया है।

Benefits of Haldi Doodh – हल्दी दूध के फायदे

हल्दी अपने एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुणों के लिए जानी जाती है, और दूध, कैल्शि‍यम का स्त्रोत होने के साथ ही शरीर और दिमाग के लिए अमृत के समान हैं। हल्दी व दूध दोनों ही गुणकारी हैं,  लेकिन जब दोनों के गुणों को मिला दिया जाए, तो यह मेल आपके लिए और भी बेहतर साबित होता है, इनके फायदे दोगुना हो जाते हैं। यह शरीर के प्राकृतिक संक्रमण पर रोक लगा देता है। इन्हें एक साथ पीने से यह कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं दूर होती हैं।

यह भी पढ़े – 

  1. मसालों के लाभकारी गुण – Benefits Of Spices In Food
  2. राजमा खाने के फायदे – Benefits Of Kidney Beans
  3. Powerful Health Benefits of Cumin seeds – जीरे के फायदे
  4. 10 ऐसे खाद्य पदार्थ जो देंगे आपको मजबूत दांत और स्वस्थ मसूड़े

Benefits of Haldi Milk – हल्दी दूध पीने के फायदे

  • रोजाना हल्दी वाला दूध लेने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलता है। हड्डियां स्वस्थ और मजबूत होती है। यह ऑस्टियोपोरेसिस के मरीजों को राहत पहुंचाता है।
  • हल्दी वाले दूध को गठिया के निदान और रियूमेटॉइड गठिया के कारण सूजन के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह जोड़ो और पेशियों को लचीला बनाकर दर्द को कम करने में भी सहायक होता है।
  • आयुर्वेद में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल शोधन क्रिया में किया जाता है। यह खून से टॉक्सिन्स दूर करता है और लिवर को साफ करता है। पेट से जुड़ी समस्याओं में आराम के लिए इसका सेवन फायदेमंद है।
  • एक शोध के अनुसार, हल्दी में मौजूद तत्व कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकते हैं और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करते हैं।
  • हल्दी वाले दूध के सेवन से कान दर्द जैसी कई समस्याओं में भी आराम मिलता है। इससे शरीर का रक्त संचार बढ़ जाता है जिससे दर्द में तेजी से आराम होता है।
  • रोजाना हल्दी वाला दूध पीने से चेहरा चमकने लगता है। रूई के फाहे को हल्दी वाले दूध में भिगोकर इस दूध को चेहरे पर लगाएं। इससे त्वचा की लाली और चकत्ते कम होंगे। साथ ही, चेहरे पर निखार और चमक आएगी। हल्दी वाला दूध स्किन प्रॉब्लम्स में भी रामबाण का काम करता है।
  • आयुर्वेद के अनुसार, हल्दी को ब्लड प्यूरिफायर माना गया है। यह शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को मजबूत बनाता है। यह रक्त को पतला करने वाला और लिम्फ तंत्र और रक्त वाहिकाओं की गंदगी को साफ करने वाला होता है।

Benefits of golden milk – हल्दी दूध पीने के फायदे

  • रोजाना एक गिलास दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर लेने से शरीर सुडौल हो जाता है। दरअसल गुनगुने दूध के साथ हल्दी के सेवन से शरीर में जमा फैट्स घटता है। इसमें उपस्थित कैल्शियम और अन्य तत्व सेहतमंद तरीके से वेट लॉस में मददगार हैं।
  • हल्दी वाला दूध लीवर को मजबूत बनाता है। यह लीवर से संबंधित बीमारियों से शरीर की रक्षा करता है और लिम्फ तंत्र को साफ करता है।
  • यह एक शक्तिशाली ऐन्टी-सेप्टिक होता है और आंत के स्वस्थ बनाने के साथ-साथ पेट के अल्सर और कोलाइटिस का उपचार करता है। इससे पाचन बेहतर होता है और अल्सर, डायरिया और अपच नहीं होता।
  • शरीर में रक्‍त शर्करा के स्‍तर को नियंत्रित करने में हल्‍दी लाभकारी होती है। यही कारण है कि मधुमेह रोगी को नियमित रूप से हल्दी वाले दूध का सेवन करना चाहिए।
  • यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो हल्‍दी वाले दूध का उपयोग कर सकते हैं। हल्‍दी वाले दूध में करक्‍यूमिन होता है जिसमें एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। इस गुण के कारण यह वजन कम करने में सहायक होता है।
  • यदि आप नींद की कमी संबंधी समस्‍या से परेशान हैं तो हल्‍दी वाला दूध आपकी मदद कर सकता है। आप अच्‍छी नींद लेने के लिए रात में सोने से पहले हल्‍दी, दूध और शहद के मिश्रण का सेवन करें। हल्‍दी वाला दूध नींद की गुणवत्‍ता में सुधार कर सकता है।

  • दूध और हल्‍दी का सेवन करना आपको संक्रमण से बचा सकता है। हल्‍दी वाले दूध पीने के लाभ इंफेक्‍शन को रोकने में प्रभावी होते हैं। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि हल्‍दी में जीवाणुरोधी और एंटी-बैक्‍टीरियल गुण होते हैं। जिसके कारण यह कुछ प्रकार के वायरल संक्रमण को रोकने में हमारी मदद करता है। आप भी अपने शरीर को संक्रमण से दूर रखने के लिए नियमित रूप से प्रतिदिन 1 गिलास हल्‍दी दूध का सेवन कर सकते हैं।
  • हल्‍दी में ऐसे गुण होते हैं जो शरीर में बलगम के प्रवाह और कार्य को बेहतर बनाते हैं। हल्दी के औषधीय गुण बलगम को हल्‍का बनाते हैं जिससे सिर दर्द को कम करने में मदद मिलती है।
  • मासिक धर्म में हल्दी और दूध पीने से आराम मिलता है क्योंकि यह दूध गर्भाशय को उत्तेजित करता है जो मासिक धर्म के निर्वहन के मुक्त प्रवाह को बढ़ावा देता है।
  • हल्दी दूध को मुख्यतः सर्दी खांसी से राहत पाने के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है। भारतीय घरों में हल्दी दूध इस समस्या का सबसे उचित और फायदेमंद उपाय माना जाता है। इसके एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुणों के कारण ये सर्दी खांसी के संक्रमण से लड़ता है और इनके लक्षणों को दूर करता है। रात को सोने से पहले एक कप गर्म हल्दी दूध पीने से सर्दी खांसी और अन्य सांस की समस्याओं का निवारण होता है।

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *