लाइफ मंत्र

सचिन तेंदुलकर के अनमोल विचार – Sachin Tendulkar Quotes

0
Sachin-Tendulkars-quotes

सचिन तेंदुलकर के अनमोल विचार – Quotes By Sachin Tendulkar

Quotes By Sachin Tendulkar – भारत रत्न सचिन तेंदुलकर के अनमोल विचार सभी के लिए प्रेरणात्मक (Sachin Tendulkar Quotes) है, आज हम उनके द्वारा कहे गए कथन और सुविचार जानेगे (Tendulkar Inspiring Quotes).

सचिन के क्रिकेट का तो हर कोई मुरीद है। क्रिकेट के भगवान नाम से प्रसिद्ध और भारत रत्न सचिन रमेश तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 को राजापुर के एक मराठी ब्राह्मण परिवार में हुआ. इनके पिता का नाम रमेश तेंदुलकर था और उन्होंने सचिन का नाम अपने प्रिय संगीतकार सचिन देव बर्मन के नाम पर रखा था. विश्व क्रिकेट इतिहास में सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरो में गिने जाने वाले Sachin Tendulkar के नाम ऐसे कई वर्ल्ड रिकॉर्ड है जिन्होंने सचिन को वर्ल्ड क्रिकेट का बेताज बादशाह बना दिया.

यह भी पढ़े –

सचिन तेंदुलकर के सुविचार – Sachin Tendulkar Quotes

  • मुझे हार से नफरत है और क्रिकेट मेरा पहला प्यार है, एक बार जब मैं मैदान में प्रवेश कर जाता हूँ तो यह पूरी तरह से एक अलग क्षेत्र होता है और वहां हमेशा जीत की भूख होती है.
  • हर खिलाड़ी को निराशा के बाद अपने पैरों पर खड़े होकर लड़ना जरूरी होता है।
  • काम में लगे रहने की आदत मुझे मेरी मां से मिली। वो दिन रात काम में लगी रहती थी, कभी नहीं थकती थी।
  • मै conditions के लिए तैयारी करता था। कोई individual bowler के लिए… ऐसी कोई तैयारी नहीं करता था। अगर की है… तैयारी तो… सिर्फ वो Shane Warne के लिए की है।
  • क्रिकेट खेलना मेरे लिए मंदिर जाने के जैसा था। मैं हमेशा जीतने के लिए खेलता था। किसी भी कीमत पर हारना नहीं चाहता था।
  • स्टेडियम में Sachinnn…. Sachinnnnnn.. की गूंज, उससे बढ़कर कोई feelings नहीं है।
  • क्रिकेट में रोल मॉडल की बात करें तो… मेरे दो रोल मॉडल थे… सुनील गावस्कर और विवियन रिचर्ड्स।
  • क्रिकेट दिल में होना चाहिए, उम्र में नहीं..।
  • मै भगवान नहीं हूं; मैं केवल क्रिकेट खेलता हूं। ऊपर वाले का आशीर्वाद है, अब तक जो भी मेरे जीवन में आया, उसके लिए भगवान का शुक्रगुजार हूं।
  • हम सभी गलतियां करते हैं; अगर मैं गलती नहीं करता तो कभी आउट ही नहीं होता।
  • अपने मैच से पहले मैं थोड़ी तैयारी करता हूं। आम जीवन में भी मानसिक तैयारी की जरूरत होती है।
  • क्रिकेट मेरा पहला प्यार है और मैं क्रिकेट में हार से बहुत नफ़रत करता हूँ।
  • मैदान के अन्दर और बाहर हर किसी का खुद को पेश करने की शैली और तरीका अलग-अलग होता है।
  • मैंने कभी भी खुद को किसी भी लक्ष्य के लिए मजबूर नहीं किया और न ही कभी अपनी तुलना किसी और से करी।
  • हर खिलाडी जीत के लिए अपना पूरा योगदान देते है जिस कारण जीत हमेशा महान मिलती है।
  • मैं कभी भी बहुत दूर की नहीं सोचता, मैं एक वक्त पर एक ही चीज के बारे में सोचता हूँ।
  • मैं एक खिलाडी हूँ राजनेता नहीं, मैं क्रिकेट छोड़कर पॉलिटिक्स में नहीं जा रहा.क्रिकेट मेरी life है और मैं हमेशा उसी के साथ रहूँगा।
  • किसी भी एक्टिव खिलाडी को अपना ध्यान अपने लक्ष्य पर केन्द्रित करना होगा और अपने मन को सही दिशा में लगाना होगा क्योंकि अगर आपका फोकस कही और होगा तो आपको अच्छा रिजल्ट प्राप्त नहीं हो सकता।
  • मैंने हमेशा से भारत के लिए खेलने का सपना देखा था किन्तु यह मुझपर कभी दबाव नहीं डाल सका।
  • वर्ल्ड कप हमेशा अलग गेम है और यहाँ परफॉर्म करने का अपना अलग महत्व होता है।

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *