रोचक भौचक

Facts About the Ocean – समुद्र के बारे में रोचक तथ्य

0
Facts About the Ocean

Facts About the Ocean – समुद्र के रहस्य

Facts About the Ocean – दोस्तों आज हम आपके साथ महासागरों से जुड़े अनोखे तथ्य और (Information About the Ocean) महासागरों से जुडी जानकारी शेयर कर रहे है जो सिर्फ बच्चो के लिए (Facts About the Ocean for Kids) ही नहीं बल्कि बड़ों के लिए भी ज्ञान वर्धक है, यदि आपको ये जानकारी उपयोगी लगे तो आगे भी शेयर करें.

Information About the Ocean – महासागरों से जुडी जानकारी 

हम धरती के केवल एक तिहाई हिस्से में ही रहते हैं, पृथ्वी के बाकी हिस्से पर बहुत-सा पानी यानी महासागर हैं। पृथ्वी पूरे सौरमंडल मे एकमात्र ग्रह है, जहां पर महासागर पाए जाते हैं।महासागर पृथ्वी के लगभग 70.8 % भाग पर फैले हुए हैं। विश्व के महासागरों एवं सागरों का क्षेत्रफल लगभग 367 मिलियन वर्ग किलोमीटर है, जो मंगल ग्रह के क्षेत्रफल का दो गुना तथा चाँद के क्षेत्रफल का नौ गुना है।

वैज्ञानिकों का अनुमान है कि समुद्र का जन्म आज से लगभग 50 करोड़ से 100 करोड़ वर्षों के बीच हुआ होगा। दरअसल, धरती के विशालकाय गड्ढ़े पानी से कैसे भर गए यह अनुमान लगाना बहुत मुश्किल है। दूसरी ओर इतने विशालकाय गड्‍ढे कैसे निर्मित हुए यह भी एक बड़ा सवाल है। वैज्ञानिक कहते हैं कि जब पृथ्वी का जन्म हुआ तो वह आग का एक गोला थी।

जब पृथ्वी धीरे-धीरे ठंडी होने लगी वे उसके चारों तरफ गैस के बादल फैल गए। ठंडे होने पर ये बादल काफी भारी हो गए और उनसे लगातार मूसलाधार वर्षा होने लगी। लाखों साल तक ऐसा होता रहा। पानी से भरे धरती की सतह के ये विशाल गङ्ढे ही बाद में समुद्र कहलाए।

विश्व का लगभग 98 प्रतिशत जल समुन्द्रो में, लगभग 2 प्रतिशत नदियों, झीलों, भूगर्त तथा मिट्टी में है। जल की बहुतायत के कारण पृथ्वी को ‘जल ग्रह’ कहा जाता है।

यह भी पढ़े – 

  1. Facts About Solar System – सौर मंडल के महत्त्वपूर्ण तथ्य
  2. Amazing Facts about Earth – पृथ्वी के बारे में रोचक तथ्य
  3. रोचक तथ्य – Amazing Facts in Hindi
  4. दुनिया के बारे में रोचक बाते – Interesting Facts About World

Interesting Facts About the Ocean – समुद्र के रहस्य

  • निया का सबसे विशाल सागर दक्षिण चीन सागर है जिसका क्षेत्रफल 29,74,600 वर्ग किलोमीटर है।
  • प्रशांत महासागर दुनिया का सबसे गहरा सागर है। इसकी औसतन गहराई 3939 मीटर है। मैरियाना खाई में इसकी अधिकतम गहराई 10900 मीटर है।
  • मृत सागर दुनिया का अकेला ऐसा समुद्र है जो सबसे कम जगह में फैला हुआ है। यह 48 मील लंबा और 11 मील चौड़ा है।
  • आरम्भ में समुद्र में दिशा का ज्ञान करने के लिये सूर्य और तारों का सहारा लिया जाता था।
  • वर्ष 2011 में बाल्टिक सागर की तलहटी में एक रहस्यमयी चीज मिली थी, जिसके बारे में कहा जाता है कि इसमें जादुई शक्तियां हैं, जिनके चलते इसके आसपास गोताखोरों के उपकरण काम करना बंद कर देते हैं। लोगों का मानना है कि यह अंतरिक्ष के जीवों का Space Ship है, जो दुर्घटना के बाद समुद्र में आ गिरा था।
  • मृत सागर दुनिया में मौजूद सागरों में अकेला ऐसा समुद्र है जिसका पानी अन्य समुद्रों से तकरीबन 6-7 गुना ज्यादा (तकरीबन 7 प्रतिशत) खारा और भारी है।
  • यदि समुद्र का पानी खारा नहीं होता, तो गर्म क्षेत्र और गर्म हो जाते एवं ठंडे क्षेत्र और अधिक ठंडे हो जाते।
  • यदि समुद्र का पानी मीठा होता, तो मानसून बंगाल की खाड़ी से उठकर उत्तर भारत की तरफ न जाता ।
  • विशेषज्ञों के अनुसार आज के वैज्ञानिक ब्रह्माण्ड की जानकारी को कुछ समझ गये है, लेकिन समुद्र की जानकारी को बहुत ही कम समझे है।
  • समुद्र के पानी में इतना नमक मौजूद है कि यिद पूरे समुद्र का पानी सूख जाए तो पूरी धरती पर 500फ़ीट मोटी नमक की परत को फैलाया जा सकता है।
  • समुद्र के पानी का खारापन ठोस सोडियम क्लोराइड के कारण होता है।
  • हिंद महासागर दुनिया का सबसे गरम महासागर है।
  • हिंद महासागर दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा महासागर है और धरती की सतह का लगभग 14% हिस्सा है।
  • हिंद महासागर के सतह के पानी का तापमान कभी-कभी 36.6 डिग्री तक पहुंच जाता है।
  • प्रशांत महासागर का नाम “प्रशांत” रखने का मतलब है “शांतिपूर्ण”।
  • लोगों ने जब पहली बार प्रशांत महासागर को देखा तो बहुत शांत पाया जिस कारण इसे “प्रशांत” का नाम दिया।
  • समुद्र के एक लीटर पानी के 13 बिलियन भाग में एक ग्राम सोना मिला रहता है।
  • दुनियाभर के लोग समुद्र के सिर्फ 5 प्रतिशत हिस्से के बारे में ही जानते हैं। 95 प्रतिशत
  • समुद्र अभी भी हमारे लिए अनजाना है। समंदर अपने भीतर न जाने कितने रहस्यमय राज छुपाए हुए है।
  • समुद्र के अन्दर न जाने कितने अद्भुत जीव-जंतु, दुर्लभ पौधे और हैरान कर देने वाले बैक्टीरियां मौजूद हैं।
  • वैज्ञानिक का मानना है कि समुद्र में जीव-जंतुओं की 2 लाख से अधिक प्रजातियां विचरण करती हैं।
  • समुद्र के जल में बैक्टीरिया की 35,000 प्रजातियां, वायरस की 5,000 और एक कोशिकीय पौधों की करीब 1.5 लाख नई प्रजातियों की खोजी की गई हैं।
  • समुद्र मछलियों से भरा पड़ा हैं एवं मछली को समुद्र का प्रमुख जीव माना जाता है।
  • समुद्र में विशालकाय समुद्री सांप की लाखों प्रजातियां रहती है।
  • वैज्ञानिक समुद्र के अध्ययन को समुद्र-विज्ञान कहते हैं।
  • समुद्र-विज्ञान की शुरुआत केप्टन जेम्स कुक द्वारा सन् 1768 और 1779 के बीच प्रशांत महासागर के अन्वेषण के लिए की गयीं समुद्री यात्राओं से हुई।
  • पृथ्वी की सतह के करीब 70 प्रतिशत से अधिक क्षेत्र में समुद्र फैला हुआ है।
  • समुद्र के पानी की प्रमुख विशेषता इसका खारा या नमकीन होना है।
  • सुनामी एक जापानी शब्द है जिसका मतलब है, ऊँची समुद्री लहरें।
  • कुछ साल अमेरिकी महासागर में एक जल परी पाई गई थी, लेकिन उसे निकालते ही दहशत के कारण उसकी मृत्यु हो गयी थी । अखबारों में इसके चित्र भी छपे थे। लेकिन इस बात में कितनी सच्चाई है यह कह पाना बड़ा मुश्किल है।
  • अटलांटिक समुद्र में एक ऐसी रहस्यमय जगह है जिसे Bermuda Triangle कहा जाता है।
  • Bermuda Triangle में पिछले 100 सालों में असामान्य रूप से कई वायुयान और जलयान रहस्यमय रूप से गायब हो गए हैं।
  • अब तक Bermuda Triangle में करीब 1000 व्यक्ति लापता हो चुके है।
  • वैज्ञानिक सिद्धांत के मुताविक पृथ्वी में जीवन की उत्पत्ति सबसे पहले महासागर में ही हुई थी।
  • समुद्र के अंदर शंख, तेल, गैस, मोती, मूंगा, सीपी, शैवाल, मछलि आदि हजारों ऐसी वस्तुएं पाई जाती है जिसका मनुष्य दोहन करता है।
  • समुद्री पानी में पोटेशियम और मैग्नीशियम के क्लोराइड के अतिरिक्त कई रासायनिक तत्व भी होते है।
  • समुद्र में लहरें पृथ्वी के घूमने के कारण ही उठती हैं।
  • समुद्र के पानी पर चंद्रमा और सूर्य की गुरुत्वाकर्षण शक्ति काम करता है।
  • हिन्दू धार्मिक ग्रंथो के अनुसार समुद्र को 7 भागों में बांटा गया है, जिनका विवरण इस प्रकार है- लवण का सागर, इक्षुरस का सागर, सुरा का सागर, घृत का सागर, दधि का सागर, क्षीर का सागर और मीठे जल का सागर।
  • वैज्ञानिकों के मुताविक समुद्र की उत्पत्ति करीब 50 – 100 करोड़ वर्षों के पहले हुई होगी।
  • हर साल 14 अरब पाउंड (6 बी किलो) कचरा समुद्र में फेंक दिया जाता है। इसमें से अधिकांश प्लास्टिक होती है।
  • सर्दियों के दौरान आर्कटिक महासागर लगभग पूरी तरह से समुद्री बर्फ में बदल जाता है।
  • पृथ्वी पर सबसे बड़ी पर्वत श्रृंखला वास्तव में समुद्र की सतह के नीचे है इसे मिड-ओशियानिक रिज कहा जाता है और अटलांटिक के बीच से भारतीय और प्रशांत तक चलता रहता है। यह 35,000 मील लंबाई से अधिक है यह पृथ्वी की सतह का 23% हिस्सा है।
  • हम जो सांस लेने वाले ऑक्सीजन का 70% महासागरों द्वारा निर्मित होती हैं।
    मनुष्य ने धरती पर अभी तक महासागरों के पांच प्रतिशत से कम हिस्से का पता लगाया है।
  • महासागरों में ज्वालामुखी पानी के नीचे हैं जब वे विस्फोट करते हैं तो वे लावा को नहीं छोड़ते हैं, बल्कि इसके बजाय कीचड़ और मीथेन को छोड़ा करते हैं। पृथ्वी पर ज्वालामुखी गतिविधि का लगभग 90% महासागरों में होता है।
  • क्या आपको जानते हैं? 10,000 शिपिंग कंटेनर हर साल समुद्र में खो जाते हैं और उनमे से 10% जहरीले रसायनों से भरे होते हैं जो महासागर में रिसाव हो सकते हैं।
  • पृथ्वी पर सबसे बड़ी जीवित संरचना ग्रेट बैरियर रीफ है यह प्रवाल की 400 प्रजातियों का समर्थन करता है और इतनी बड़ी है कि इसे अंतरिक्ष से देखा जा सकता है।

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *